Author avatar
raveendra singh

एक ऐसा उपन्यास जिसमे दिखाया गया है। कि कैसे एक लड़का अपना जीवन जीता है। उसे कितने मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। वह बचपन से ही पढाई में होशियार होता है। पर उसके हालात कहीं और लेजातें हैं उसे , और उसे मोहब्बत भी होती है। जब वह बीच मझधार में फंस जाता है तो वह मरने के बारें भी सोचता है । लेकिन फिर वह संभल जाता है। और निकल पड़ता है ज़िंदगी के इस सफर में।

Books by raveendra singh
Other author
Publish Book Now
close slider








Note: This question makes sure that you are not a robot.