• img-book

    VIKASH CHANDRA

ISBN: 9789353479947
SKU: 3242 Category:

ALWAYS A DREAM

by: VIKASH CHANDRA

309.00

46 in stock

Quantity:
Books of VIKASH CHANDRA
About This Book

    जाह्नवी का अथाह प्रेम और निश्छल समर्पण जयंत की ज़िंदगी की पूर्णता है तो अतृप्त प्रेम का पर्याय बन चुकी ज्योत्स्ना, एक अबूझ पहेली की तरह जयंत की ज़िंदगी में व्याप्त अनंतकाल का खालीपन और इस खालीपन को अपनी मौजूदगी से भरती रुख़सार, जयंत से उसके रिश्ते के वजूद की सार्थकता की तलाश।
    एक ऐसी पे्रमगाथा, जिसमें अलग-अलग हृदयों में पल रहे प्रेम का विभिन्न रूप अपने विकसित स्वरूप में है। किसी के लिए प्रेम पवित्रता है तो किसी के लिए दैहिक उच्छृंखलता, किसी के लिए प्रेम अधिकारयुक्त समर्पण है तो किसी के लिए नियतिजन्य मूक विवशता।
    ‘आलवेज़ अ ड्रीम’, जयंत के अतीत की मार्मिक कहानी है जो अंत तक बाँधे रखती है। प्रेम की नई परिभाषा को गढ़ते हुए इस उपन्यास में लेखक विकास चंद्रा ने पहले प्रेम की अनुभूति, एक तरफा प्रेम की विवशता, समर्पण की मधुरता, विरह की वेदना, अतृप्ति की अंतहीन बेचैनियों एवं वासनारहित प्रेम की सार्थकता जैसी मानवीय भावनाओं का सुंदर चित्रण करते हुए भारतीय समाज की जातिवादी व्यवस्था, संकीर्ण सोच और प्रेम-विवाह के विरुद्ध खोखली सामाजिक प्रतिष्ठा पर प्रहार करते हुए कहानी को नई दिशा प्रदान की है।

  • Details
  • Meet the Author
  • Reviews(0)
Details

ISBN: 9789353479947
SKU: 3242
Publisher: BlueRose Publishers
Publish Date: 2019
Page Count: 316

Meet the Author
Blue rose author
साहेबगंज (झारखंड) में जन्में एवं पले-बढ़े, पेषे से इंजीनियर एक ऐसे व्यक्ति जो बहुमुखी प्रतिभा के धनी हैं। साहित्य, संगीत एवं कला में इनकी समान रुचि है। प्रस्तुत उपन्यास इनकी पहली कृति है जिसमें इन्होंने पहले प्रेम की अनुभूति, एक तरफा प्रेम की विवषता, समर्पण की मधुरता, विरह की वेदना, अतृप्ति की अंतहीन बेचैनियों एवं वासनारहित प्रेम की सार्थकता जैसी मानवीय भावनाओं का सुंदर चित्रण कर लेखन में अपनी विषेष रुचि एवं असाधारण प्रतिभा का परिचय दिया है।

Additional information

Weight .200 kg
Dimensions 21 x 12 x 2 cm

Only logged in customers who have purchased this product may leave a review.

There are no reviews yet.